“आयुष्मान भारत” योजना के अंतर्गत कई गंभीर बीमारियों की फ्री इलाज, साथ में ₹500000 तक की स्वास्थ्य बीमा योजना

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस योजना की शुरुआत 1 अप्रैल 2018 को की गई थी, जिसकी घोषणा देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली ने की थी। इस योजना को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना और मोदी केयर के नाम से भी जाना जाता है।

इस योजना के अंतर्गत ऐसे कई गरीब परिवार के लोगों का इलाज करवाया जा चुका है, जो आर्थिक तंगी और पैसों की कमी से अपना इलाज बड़े और महंगे अस्पतालों में नहीं करवा पाते, इस योजना के अंतर्गत बीपीएल परिवार और गरीब परिवार के लोगों को मुफ्त इलाज के साथ-साथ ₹500000 तक की बीमा योजना भी प्रदान की जाती है। एक रिपोर्ट के अनुसार अभी तक 7000000 से भी ज्यादा गरीब परिवारों के बीमार लोगों की इलाज इस योजना के अंतर्गत किया जा चुका है।

इस योजना का लाभ गरीब परिवारों को मिलता है

जैसे कि हमने यह ऊपर बताया है कि इस योजना की शुरुआत भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 अप्रैल 2018 को शुरू किया गया था, और इस योजना की घोषणा भारत की वित्त मंत्री श्री अरुण जेटली द्वारा किया गया। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार देश के सभी गरीब परिवारों को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा योजना देगी। इसका मतलब यह है कि कोई भी गरीब व्यक्ति जो इस योजना की योग्य है वह किसी भी प्राइवेट व सरकारी अस्पताल में अपना ₹500000 तक का मुफ्त इलाज करवा सकता है। एक रिपोर्ट की मानें तो अभी तक 7000000 से भी ज्यादा लोगों की इस योजना के अंतर्गत मुफ्त इलाज किया जा चुका है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सरकार द्वारा चलाई जा रही है स्वास्थ्य योजना “ आयुष्मान भारत योजना” के तहत 5 दिसंबर 2019 तक 6500000 से भी ज्यादा मरीजों का उपचार हो चुका है और केंद्र ने इस पर ₹9549 करोड़ खर्च किए हैं। अगर आप इसे दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना कहे तो या गलत नहीं होगा।

वही इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार यह जानकारी केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्वनी चौबे ने 10 दिसंबर को राज्यसभा में दी थी। उन्होंने बताया कि अब तक 65,45,733 मरीजों में से 35,34,695 मरीजों का इलाज निजी अस्पताल में किया गया और इनके इलाज में 6133 करोड़ रुपए खर्च किया गया है।

आयुष्मान भारत योजना क्या है? (What is Ayushman Bharat Yojana?)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1 अप्रैल 2018 को आयुष्मान भारत योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना को जन आरोग्य योजना के नाम से भी जाना जाता है, (Pradhan mantri jan Arogya yojna- PMJAY), या नेशनल हेल्थ प्रोटेक्शन स्कीम (National health Protection scheme) या मोदी केयर (Modi care) के नाम से भी जाना जाता है। केंद्र सरकार इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ परिवार को सालाना ₹500000 का स्वास्थ्य बीमा योजना उपलब्ध कराती है।

Ayushman Bharat Yojna On-line Registration ( आयुष्मान भारत योजना के लिए ऑनलाइन पंजीकरण)

इस योजना का मुख्य उद्देश्य देश के 10 करोड़ गरीबी रेखा से नीचे आने वाले परिवारों को इस योजना के अंतर्गत लाभ देना है, इस योजना के अंतर्गत उन्हें ₹500000 तक की मुफ्त इलाज सरकारी व निजी अस्पताल में मुहैया करवाया जाता है। इसके अलावा इस योजना के अंतर्गत देश के आर्थिक रूप से कमजोर लगभग 50 करोड़ बीपीएल परिवार को ₹500000 तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान करना भी है। 2020 में सरकार द्वारा यह भी घोषणा की गई है ऐसे लोग जिनकी वार्षिक आय ₹100000 से लेकर ₹500000 तक के अंदर है उन्हें भी इस योजना के अंतर्गत शामिल करना है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी को सरकार द्वारा चयन किया जाएगा जिसके लिए सरकार ने अपनी आधिकारिक वेबसाइट भी शुरू की है। सरकार द्वारा चुने गए लाभार्थी इस वेबसाइट पर अपना नाम देख सकते हैं। हम अपने नीचे के आर्टिकल में आपको यह बताएंगे कि आप किस तरह से आयुष्मान भारत योजना की सरकारी वेबसाइट पर अपनी सूची चेक कर सकते हैं।

आयुष्मान भारत योजना में अपना नाम कैसे चेक करें?

आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठाने के लिए आप आयुष्मान भारत योजना की अधिकारिक सरकारी वेबसाइट पर जाकर के अपना नाम खोज सकते हैं। आप इसके लिए सीधे गूगल में जाकर के आयुष्मान भारत सर्च कर सकते हैं। या फिर आप हमारे दिए गए नीचे लिंक पर क्लिक करके सीधे आयुष्मान भारत की आधिकारिक वेबसाइट पर जा सकते हैं। इसके लिए आप नीचे दिए गए वेबसाइट लिंक पर क्लिक करके सीधे उस वेबसाइट पर जा सकते हैं ?

https://mera.pmjay.gov.in/search/login

नीचे दिए गए फोटो में इस तरह का एक वेबसाइट आपके सामने खुलेगा, यहां पर आप अपना मोबाइल नंबर और cptacha जो चीज लिखा होगा उसे वैसा का वैसा वह भरना है।

इसके अलावा इसके नीचे आयुष्मान भारत से संबंधित जानकारी दी गई है। आप उसे भी पढ़ सकते हैं।

इस पेज में पहुंचकर के आपका अपना मोबाइल नंबर डालना होगा, इसके बाद आपको कैप्चा डालना होगा, इसके बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी जनरेट होगा, यह ओटीपी नंबर डालना होगा इसके बाद आप अपना राज्य सेलेक्ट कर सकते हैं, उसके बाद आप अपना नाम या जाति श्रेणी में खोज सकते हैं। उसके बाद अपनी डिटेल इंटर करके आप यह खोज सकते हैं।

आयुष्मान भारत हेल्प नंबर

इसके अलावा आप इन नंबरों पर बात करके यह पता कर सकते हैं कि आप आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी है या नहीं। हेल्पलाइन का नंबर है 14555, इस पर आप आयुष्मान भारती योजना की जानकारी ले सकते हैं, इसके अलावा आप प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो 1800111565 पर भी कॉल कर सकते हैं, इस हेल्पलाइन नंबर पर आपको 24×7 सेवा उपलब्ध कराई जाती है।

आयुष्मान भारत योजना की विशेषताएं और लाभ

● इस योजना का सबसे बड़ा लाभ यह है कि बीपीएल परिवार की लोगों को सरकार द्वारा ₹5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा योजना दिया जाता है।

● सरकार द्वारा इस योजना का लाभ लगभग 50 करोड़ बीपीएल परिवारों को दिया जाएगा।

● इस योजना के अंतर्गत योग्य अभ्यर्थी सरकार द्वारा चुने गए सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में ₹500000 तक का मुफ्त इलाज करवा सकते हैं।

● इस योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी के पास में आयुष्मान भारत योजना का गोल्डन कार्ड होना अवश्य है।

● यदि किसी व्यक्ति का नाम लाभार्थी सूची में नहीं है और वह इस योजना के योग्य है, और वह व्यक्ति आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठाना चाहता है तो वह इस योजना के अंतर्गत आयुष्मान मित्र की मदद से अपना पंजीकरण करवा सकता है। इतना ही नहीं वह गोल्डन कार्ड हॉस्पिटल पर भी बनवा सकता है।

● इसी अदा पर कई प्रकार की गंभीर बीमारियों का इलाज करवाया जाएगा जिसमें मरीज के अस्पताल में भर्ती होने से पहले का खर्च और अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद का खर्च भी सरकार द्वारा उठाया जाता है।

● योजना का लाभ उठाने के लिए अभ्यर्थी का आधार कार्ड होना जरूरी है।

● आपके शहर या गांव में किस किस अस्पताल में इस योजना का लाभ दिया जा रहा है यह जानने के लिए आप नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैं।

https://hospitals.pmjay.gov.in/Search/empnlWorkFlow.htm?actionFlag=ViewRegisteredHosptlsNew

आयुष्मान भारत योजना से संबंधित नियम एवं शर्तें इस योजना के अंतर्गत कौन शामिल होगा और कौन नहीं?

आयुष्मान योजना का लाभ उठाने के लिए इसके अंतर्गत कुछ मापदंड दिए गए हैं, इसी आधार पर ही पात्र माना जाएगा कील लाभार्थी को आयुष्मान भारत योजना कल लाभ मिल सकेगा या नहीं

● बेघर और निराश्रित लोग जी के पास रहने के लिए अपना कोई घर नहीं है ऐसे लोगों को आसमान भारत योजना के अंतर्गत शामिल किया जाना है।

● गरीबी रेखा से नीचे के लोग जो कूड़ा कचरा और हाथों से मैला ढोने वाले हैं उनको भी इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जाएगा।

● ऐसे आदिवासी लोग जो जंगलों में और बीहड़ों में रहते हैं।

● उन मजदूरों को भी इसमें शामिल किया गया है जो या तो बंधुआ मजदूर है या फिर उन्हें बंधुआ मजदूरी से मुक्त कराया गया है।

साधारण आम व्यक्ति के आधार पर आयुष्मान भारत योजना के लिए पात्रता

● ऐसे लोग जो एक घर वाले कच्चे मकान में रहते हैं।

● जिसके घर में 18 से 59 वर्ष की उम्र का कोई पुरुष सदस्य ना हो और महिला सदस्य पर आश्रित हो।

● आशा परिवार जो विकलांगता है या अपंगता से ग्रसित हो जिसमें कोई अन्य विकलांगता रहित व्यस्क व्यक्ति ना हो।

● अनुसूचित जाति या जनजाति के लोग इसके पात्र माने जाएंगे।

● ऐसे परिवार जिसमें 25 वर्ष से अधिक उम्र का कोई भी व्यस्क सदस्य शिक्षित ना हो उन्हें भी इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जाएगा।

● ऐसे व्यक्ति या परिवार के लोग जो अपना जीवन मजदूरी करके बिताते हैं और भूमिहीन हैं उन्हें भी इस योजना का लाभ दिया जाएगा।

इलाज के लिए जरूरी है गोल्डन

कार्ड

इस योजना के तहत देश के 10 करोड़ गरीब परिवारों को कैंसर सहित 1300 से भी ज्यादा बीमारियों का मुफ्त इलाज और हर परिवार को ₹500000 तक का बीमा कवर दिया जाता है। अगर आपका नाम इस योजना के अंतर्गत आता है और आप इसका लाभ लेना चाहते हैं तो आपके पास गोल्डन कार्ड होना जरूरी है।

गोल्डन कार्ड आप कहां से बनवा सकते हैं?

अगर आपका नाम आयुष्मान भारत योजना में है और आप गोल्डन कार्ड ले करके इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तू इसके लिए आपको इस योजना में शामिल अस्पताल या जन सेवा केंद्र में संपर्क करना होगा। जहां पर जा करके आप अपने लिए गोल्डन कार्ड बनवा सकते हैं। इस कार्ड को बनवाने के लिए आपको मात्र ₹30 देने होंगे और साथ में राशन कार्ड, आधार कार्ड और मोबाइल नंबर देना होगा।

आयुष्मान भारत में एक नया प्रावधान भी दिया गया है इस नए नियम के तहत इस योजना से जुड़े परिवार में शादी करके आई नई नवेली दुल्हन बहू को मुफ्त सेवा स्वास्थ्य लेने के लिए किसी कार्य डॉक्यूमेंट की जरूरत नहीं होगी। ऐसी महिला अपनी पति का आधार कार्ड दिखाकर सभी सुविधाओं का लाभ उठा सकेगी, इससे पहले इस लाभ का फायदा उठाने के लिए महिला को अपने शादी का प्रमाण पत्र देना जरूरी होता था। जिसे अब हटा दिया गया है।

दोस्तों आज के हमारे इस आर्टिकल में हमने आयुष्मान भारत योजना के बारे में आपको जानकारी उपलब्ध कराने की कोशिश की है। इससे संबंधित अगर आपकी कुछ सवाल है तो आप हमें कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं हम यह कोशिश करेंगे कि आपके सारे सवालों के जवाब दे सके। अगर आपको हमारा या आर्टिकल पसंद आया है तो आप अपने दोस्तों के साथ इसे शेयर भी कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Recommended
दोस्तों हमारा यह दुनिया बहुत ही रहस्यमई और अजीब गरीब…
DMCA.com Protection Status