Biography of Ravish kumar – रवीश कुमार की जीवनी

पत्रकारिता के क्षेत्र में रवीश कुमार का नाम नया नहीं है। रवीश कुमार उन सारे पत्रकारों में से एक है जिन्होंने पत्रकारिता के क्षेत्र में बहुमूल्य योगदान दिया है। रवीश कुमार एक इमानदार प्रसिद्ध पत्रकार लेखक और शानदार वक्ता है । आजकल बहुत कम पत्रकार है जो इमानदारी से पत्रकारिता करते हैं । रवीश कुमार किसी परिचय का मोहताज नहीं है। रवीश कुमार एक भारतीय टीवी एंकर, लेखक और पत्रकार हैं। जो भारतीय राजनीति और समाज से संबंधित विषयों को मीडिया के माध्यम से लोगों के सामने लेकर के आते हैं। हाल ही में रवीश कुमार जी को रमन मैग्सेसे का पुरस्कार भी मिला है। आज हम लोग अपने लेख में उनके जीवनी के बारे में जानेंगे।

रवीश कुमार की जीवनी -Biography of Ravish kumar

रवीश कुमार एनडीटीवी के वरिष्ठ कार्यकारी संपादक है। हिंदी समाचार चैनल एनडीटीवी समाचार नेटवर्क और होस्ट के चैनल के प्रमुख कार्य दिवस सहित कई कार्यक्रम प्रस्तुत करते हैं। उनके प्रमुख कार्यक्रमों में ‘ “प्राइम टाइम शो” ,”हम लोग” और ” रविश की रिपोर्ट आदि शामिल है। रवीश कुमार जी एनडीटीवी इंडिया से लगभग 15 साल से जुड़े हुए हैं।
रवीश कुमार एक भारतीय पत्रकार, लेखक और टीवी एंकर है, जिन्हें भारत में सबसे लोकप्रिय हिंदी पत्रकारों में से एक माना जाता है।
रवीश कुमार जी का पूरा नाम  रवीश कुमार पांडे है। रवीश कुमार का जन्म 5 दिसंबर 1974 बिहार के मोतिहारी के जितवारपुर गांव में हुआ था। उन्होंने अपनी प्रारंभिक स्कूली शिक्षा लोयला हाई स्कूल से खत्म की। अपनी आगे की पढ़ाई के लिए रवि जी 1990 में दिल्ली चले गए जहां उनका दाखिला देशबंधु कॉलेज में हुआ। यहां से उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की और भारतीय जनसंचार संस्थान से पत्रकारिता में स्नातकोत्तर डिप्लोमा प्राप्त किया।
जब दिल्ली यूनिवर्सिटी में एमफिल कर रहे थे, तब उनकी मुलाकात नयना दासगुप्ता से हुई, दोनों एक दूसरे को पसंद करते थे। बाद में इन दोनों ने शादी कर ली। नयना दासगुप्ता लेडी श्री राम कॉलेज दिल्ली यूनिवर्सिटी में इतिहास की टीचर है। रवीश कुमार जी ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि ‘ मेरी पत्नी नयना दासगुप्ता मेरी मुख्य प्रेरणा है’। रवीश कुमार जी की दो बेटियां भी है।

इसके बाद रविश कुमार जी को एनडीटीवी इंडिया में पत्रकारिता की नौकरी मिल गई। रवीश कुमार जी के कुछ सोच काफी लोकप्रिय हुए। आजकल रवीश कुमार का प्राइम टाइम शो बहुत शानदार चल रहा है और दर्शकों को बहुत पसंद आ रहा है। इस कार्यक्रम में रवीश कुमार किसान, बेरोजगार जैसे समस्याओं को पूरे जोर से समाज के सामने उठाते हैं और लोगों तक अपनी बात पहुंचाते हैं। रवीश कुमार जी की वार्षिक वेतन लगभग 20 लाख है और उन्हें मासिक वेतन लगभग ₹200000 आसपास मिलते हैं।
दी इंडियन एक्सप्रेस ने 2016 में अपने 100 सबसे प्रभावशाली भारतीयों की सूची में उन्हें शामिल किया था। रवीश कुमार जी ने सोशल मीडिया पर अपनी बात पूरे जोर-शोर से रखी है। उन्होंने आज के दौर के मीडिया को एक नया नाम दिया है गोदी मीडिया जो बहुत ही लोकप्रिय हो चुका है। 2019 में उन्हें पत्रकारिता के सर्वोच्च सम्मान रमन मैग्सेसे पुरस्कार से भी सम्मानित किया जा चुका है।
रवीश कुमार जी का एक ब्लॉग भी है, http://naisadak.org/  यहां पर आप रवीश के अलग अंदाज में लिखे लेख और सामाजिक मुद्दों पर विचार और कटाक्ष पढ़ सकते हैं। इसके अलावा रवीश कुमार जी सोशल मीडिया साइट पर भी काफी लोकप्रिय है। आप रवीश कुमार जी को टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं, http://twitter.com/ravishndtv , आप उन्हें फेसबुक पर भी फॉलो और लाइक कर सकते हैं।

रवीश कुमार को मिले अवॉर्ड्स और अचीवमेंट – Ravish kumar Awards and Achievment

◆ वेंकैया नायडू ने 2017 में रवीश कुमार जी को उत्कृष्ट पत्रकारिता का रामनाथ गोयंका अवॉर्ड प्रदान किया था।

◆ भारतीय टेलीविजन पुरस्कार 2014 मैं उन्हें सर्वश्रेष्ठ हिंदी एंकर का अवार्ड प्राप्त हुआ।

◆ 2017 में लॉक रत्न सम्मान ( लॉक रतन सम्मान अमर कथा शिल्पी फणीश्वर नाथ रेनू के परिवार की तरफ से दिया जाता है)
◆ कुलदीप नायर अवॉर्ड संजीदा पत्रकारिता के लिए 2017 में।
◆ दी इंडियन एक्सप्रेस ने 2016 में उन्हें 100 सबसे प्रभावशाली भारतीयों की सूची में शामिल किया।
◆ 2019 में रवीश कुमार जी को रमन मैग्सेसे पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

हमारे बायोग्राफी सेक्शन में आप यह सारी बायोग्राफी भी पढ़ सकते हैं।
कन्हैया कुमार की जीवनी
फेसबुक के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग की जीवनी
मुंशी प्रेमचंद की जीवनी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *