SSL क्या होता है? यह सर्टिफिकेट वेबसाइट के लिए क्यों जरूरी है?

अगर आप वेबसाइट का इस्तेमाल करते हैं तो आपने कहीं ना कहीं जरूर यह पढ़ा होगा SSL सर्टिफिकेट के बारे में।

अगर आप वेबसाइट बिल्डर है। तुझे सर्टिफिकेट आपके काम की हो सकती है। एसएसएल सर्टिफिकेट कैसे काम करता है और हम इसे कहां से खरीद सकते हैं? लाखों-करोड़ों लोग हर दिन इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं। और हर दिन कुछ ना कुछ नई जानकारियां हासिल करते हैं। बहुत चलो ई-कॉमर्स वेबसाइट जैसे amozon, फ्लिपकार्ट से सामान खरीदते रहते हैं। और इसके लिए ऑनलाइन पेमेंट करते हैं।

वहीं कई लोग अपना पर्सनल डिटेल और डाटा दे कर e-commerce वेबसाइट पर अपना अकाउंट बनाते हैं।

ऐसा मैं आपने कभी यह सोचा है कि जितने भी हम लोग अपने डेटा और डिटेल इंटरनेट पर डालते हैं। वह कहां जाता होगा। यह सारे डिटेल और डाटा वेबसाइट के सर्वर में सेव हो जाता है।

ऐसे में सवाल उठता है अगर वेबसाइट सिक्योर नहीं होगा तो हैकर्स आसानी से लोगों के डिटेल्स और डाटा जैसे आपके द्वारा दिया गया ईमेल ऐड्रेस, एटीएम, मोबाइल नंबर, यहां तक कि आपकी निजी जानकारियां भी है किसके पास पहुंच जाएगी।

ऐसे में सभी डाटा या पर्सनल डिटेल जो हम किसी वेबसाइट के साथ शेयर करते हैं वह सुरक्षित हो यानी कि (secure connection) हो। ऐसे में जितने भी वेबसाइट हैं वह एक थर्ड पार्टी से अपने डाटा को सुरक्षित रखने के लिए । एक वेबसाइट प्रोटोकोल कस्टमर करती है। जिसका नाम है SSL PROTOCOL, आज का हमारी इस आर्टिकल में हम लोग इस प्रोटोकॉल के बारे में बात करेंगे और यह काम कैसे करता है यह जानेंगे।

SSL क्या है? यह कैसे काम करता है?

वेबसाइट के सिक्योर कनेक्शन के लिए, SSL प्रोटोकॉल का इस्तेमाल किया जाता है। SSL का फुल फॉर्म SECURE SOKETS LAYER है।

आप यह मान सकते हैं कि यह एक Encryption पार्टिकल है। जो इंटरनेट में इस्तेमाल किया जाता है। जो किसी वेबसाइट को सिक्योर कनेक्शन प्रदान करती है। इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को वह अनुमति देती है कि वह अपने प्राइवेट डाटा वेबसाइट के साथ शेयर कर सकें। यही बचा है कि बड़े-बड़े ई-कॉमर्स वेबसाइट अपने वेबसाइट के साथ इस प्रोटोकॉल का इस्तेमाल करते हैं। ताकि उनके कस्टमर्स के द्वारा दिए गए अपने प्राइवेट डाटा, जैसे कि ऑनलाइन ट्रांजैक्शन में, सिक्योर है। इसके इस्तेमाल से e-commerce वेबसाइट अपने कस्टमर के डाटा को सुरक्षित रखते हैं। हैकर्स द्वारा इस डाटा को चुरा पाना भी नामुमकिन होता है।

किन किन वेबसाइट में SSL सर्टिफिकेट का इस्तेमाल होता है? कैसे जाने?

जो वेबसाइट SSL का इस्तेमाल करते हैं। उनका डोमेन नाम जो होता है उसके http:// के पहले एक लॉक 👌का चिन होता है। एक ताले का निशान होता है।

जैसे

ऊपर दिए गए दोनों साइट के एड्रेस को देख करके आपको यह अंदाजा तो हो गया होगा, SSL सर्टिफिकेट वाले वेबसाइट के आगे का http वाला भाग हरे रंग का होता है। या उसके डोमेन नेम से पहले एक ताले का चिन्ह होता होता है। SSL को TLS के नाम से भी जाना जाता है। जिसे Transport layer Security प्रोटोकोल कॉल भी कहा जाता है।

SSL कितने टाइप के होते हैं?

अगर आप कोई वेबसाइट चलाते हैं तो आपको इन सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ सकती है। 2019 में गूगल द्वारा वेबसाइटों पर इन सर्टिफिकेट को जरूरी कर दिया गया है। ऐसे में आपको इन सर्टिफिकेट के बारे में जानकारी बहुत ही जरूरी है। यह सर्टिफिकेट कई तरह के होते हैं। और इन सर्टिफिकेट का इस्तेमाल अलग-अलग तरह के वेब साइटों पर किया जा सकता है। इनमें से कुछ सर्टिफिकेट महंगे होते हैं तो कुछ सर्टिफिकेट सस्ते होते हैं।

1. Wildcard SSL CERTIFICATE

यह यह सर्टिफिकेट के मदद से आप अपने डोमेन और sub domain दोनों को सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं. इस सर्टिफिकेट के मदद से आपके domain में और आपके आर्गेनाइजेशन दोनों को वैलिडेशन मिलता है।

अगर आप छोटा वेबसाइट या सिंगल डोमेन वेबसाइट चला रहे हैं तो वाइल्डकार्ड सर्टिफिकेट आपके लिए उपयुक्त साबित हो सकता है। खासकर यह ब्लॉगिंग और छोटे वेब साइटों के लिए यूज होता है।

2.Multi Domain (SAN) Certificate

Multi-domain एसएसएल सर्टिफिकेट का इस्तेमाल ज्यादातर एक से ज्यादा डोमेन वाले वेबसाइट द्वारा किया जाता है। यह सर्टिफिकेट लगभग 250 Domain को सुरक्षित रख सकता है।

3. EV SSL CERTIFICATE

यह एसएसएल सर्टिफिकेट बिजनेस के लिए बनाया गया है। जो वेब ब्राउज़र के एड्रेस बार को ग्रीन कर देता है यानी हरे रंग का कर देता है। इस जगह पर आपका बिजनेस नाम भी लिखा हुआ होता है। बड़ी-बड़ी e-commerce वेबसाइट भी इस तरह के SSL CERTIFICATE का इस्तेमाल करते हैं।

इसके अलावा भी कई तरह के SSL सर्टिफिकेट होते हैं जिनके बारे में नीचे दिया गया है।

  • DOMAIN VALIDATED SSL
  • ORGANIZATION VALIDATION SSL
  • CODE SIGNING CERTIFICATE
  • MULTI DOMAIN WILDCARD SSL CERTIFICATE

ऊपर एसएसएल सर्टिफिकेट के टाइप्स के बारे में बताया गया है, जेन्हे वेबसाइट बिल्डर अपनी जरूरत के हिसाब से इस्तेमाल करते हैं।

SSL सर्टिफिकेट आफ कहां से खरीद सकते हैं?

जब भी आप कोई वेबसाइट बनाने के लिए डोमेन खरीदते हैं यानी कि कोई नाम रजिस्टर करवाते हैं। उसी के साथ आप डोमेन प्रोवाइडर से यह सर्टिफिकेट खरीद सकते हैं।

इसके अलावा बहुत से कंपनी भी आपको फ्री में यह सर्टिफिकेट उपलब्ध करा देते हैं। Let Encrypt, यह कैसी कंपनी है। इसके अलावा भी और भी कंपनियां आपको मुफ्त में यह सर्टिफिकेट मुहैया करवाते हैं।

गूगल ऐडसेंस के साथ आप कौन-कौन से ऐड नेटवर्क का इस्तेमाल कर सकते हैं यहां पर पढ़ें

ब्लॉगिंग से कैसे पैसा कमाए जाए?

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *